What is Cheque and Types of Cheques in India in Hindi

What is Cheque & Their Types

यह एक ऐसा दस्तावेज़ हैं| जो की बैंक के द्वारा एक व्यक्ति के खाते से प्रमाणित   किया जाता हैं| चेक का इस्तेमाल सिर्फ वह व्यक्ति कर सकता है | जिसका बैंक मे खाता हो | चेक मे निमन्न प्रकार का विवरण करना अति आवश्यक हैं ,जैसे की दिनांक,रकम ,प्रापतकर्ता का नाम ,खाताधारक के  हस्ताक्षर | चेक के द्वारा खाताधारक को अपने साथ बड़ी रकम रखने की आवश्यकता नहीं होती है | चेक का इस्तेमाल ९वि सदी से होता आ रहा है| लेकिन २०वि सदी मैं चेक की लोकप्रिय होता जा रहा हैं| चेक की उतपन्यता बैंक के खाताधारको के निवेदन पर की गयी है| और नोटबंदी की वजह से आदमी ज्यादातर चेक का इस्तेमाल अत्याधिक कर रहा है |

PARTS OF CHEQUE

1-चेककर्ता- वह व्यक्ति जिसके नाम से बैंक मैं खाता होता है वह  व्यक्ति  ही सिर्फ चेक दे सकता है|
2-प्रापत्कर्ता-  वह व्यक्ति जो चेक्कर्ता के माध्यम से रकम प्राप्त करता हैं |
3-भुगतानकर्ता- भुगतानकर्ताकेअंतर्गत बैंक, वित्तीयसंसथान आदि आते हैं |
4-रकम

चेक का इस्तेमाल ज्यादर १९ वि और २०वि सदी मई अधिकतर बढ़ गया है| चेक मे सबसे महत्वपूर्ण बात यह हैं की चेक मई खाताधारक के हस्ताक्सर होना महत्वपूर्ण है | चेकबुक के अन्दर चेक को क्रम में लगाया जाता है | चेक को क्रम मे लगाने का मतलब इसलिए होता है क्यूंकि कोई  कोई बैंक धोका करते हैं | और कभी भी एक चेक के दो नक़ल नहीं हो सकती है | चेक एक लोकप्रिय बैंक लेन देन  माध्यम है |चेक बुक मई आवश्यक विवरण निमन हैं | बैंक का नाम ,शाखा का नाम ,IFSC code, खाताधारक का नाम , खाताधारक की खातासंखाया हर चेक में | चेक जिस तारिक में कटा हो वह चेक सिर्फ ३ महीने तक वेद्य रहता हें |

TYPES OF CHEQUE




1.BEARER CHEQUE-  

Bearer Cheque  में चेक राईट साइड में तारिक के निचे Bearer लिखा होता हैं |और इस चेक में हम नगदी बैंक से ले सकते है जिसमे की किसी भी आदमी का नाम लिखा गया है | इसका अधिकतर कार्य बैंक से नगदी लेने के लिए किया जाता है यदि  चेक कही खो जाए तो और  उस चेक में आपके हस्ताक्सर हो तो जिस आदमी को वह चेक मिलेगा  वह आपके खाते से नगदी निकाल सकता है | Bearer Cheque Transfer भी कर सकते  हैं |

2.ORDER CHEQUE - 

 इस चेक का इस्तेमाल सिर्फ वही कर सकता है जिसके नाम पर चेक होगा और दूसरा कोई आदमी उस चेक से नगदी नहीं निकल सकता इस चेक में आदमी चेक ट्रान्सफर भी कर सकता है चेक के पीछे उस आदमी का नाम लिखकर |

3.CROSSED CHEQUE -

 इस चेक में ऊपर से दो रेखा खीच दी जाती हैं जिससे की चेक जिस आदमी के नाम पर दिया था उस आदमी को उस चेक के द्वारा बैंक से नगदी नहीं मिल पाएगी और वह  नगदी उसके खाते में सीधे जमा हो जायेगी | इस चेक की ख़ास बात यह है की नगदी लेन देन नहीं होता है |

4.UNCROSSED CHEQUE -

 इस चेक में  ऊपर से कोई रेखा नहीं होती है | इस चेक मे कोई भी  आदमी नगदी  ले सकता है|



5.POSTDATED CHEQUE -  

इस चेक को लोग  PDC कहते है | इस चेक में आज की तारिक का चेक से जिस तारिक का चेक कटा होता है | उस तारिक को ही नगदी अपने  खाते मे  जमा करा सकता है | इस चेक में  जो दिनांक लिखी होती है वही तारिक मान्य होती है |

6.STALE CHEQUE -

 इस चेक जो दिनाक  चेक मे  लिखी जाती हैं वही दिनाक से लेकर अगले तीन महीने तक मान्य रहती है|





7.MUTILATED CHEQUE- 

इस चेक की ख़ास बात यह हैं की यदि चेक फट गया हो या कुछ चीज़ मिट गयी हो तो वो चेक बैंक मे मान्य नहीं होता है इस चेक को MUTILATED CHEQUE  कहते है|



8. GIFT CHEQUE-

 यह चेक एक प्रकार का तोहफा ,प्रोत्साहन ,ईनाम आदि प्रकार  का चेक होता है|इस चेक मे थोडा एक्स्ट्रा चार्ज लगता है|
 

9.TRAVELLERS CHEQUE- 

 यह चेक यात्रियो के लिए बनाया जाता है |यह चेक दुनिया भर मे मान्य कर लिया जाता है | इस चेक कोई वय्धयता नहीं होती है | इस चेक में बाहरी देश के वित्त मे भी बदल सकते है |


10.BANKERS CHEQUE

 यह चेक बैंक द्वारा प्रमाणित किया जाता है| जिसमे की खाताधारक अपनी अनुउपस्थिः मई किसी दुसरे आदमी को दे सकता है | इस चेक को अपमान नहीं किया जा सकता है | इस चेक की प्रेपय्मेंट होती है इसकी पेमेंट पहले ही हो गयी होती है|  

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया तो औरों के साथ भी शेयर करे
अगर आपको यह Post and Video अच्छा लगा तो लाइक करना ना भूलें। और यदि आप Internet और Computer के बारे में सीखना और जानना चाहते है तो कृपया Facebook k Like बटन में क्लिक करे। Happy Learning
Technology के बारे में रोज कुछ न कुछ नया सीखने के लिए youtube में यहाँ से subscribe करें ==>>
★★★★★
Your Comment For This Post..?