What is the difference between FAT16 and FAT32 File System in Hindi?

What is the difference between FAT16 and FAT32 File System in Hindi?

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको FAT32 और NTFS File Systems के बीच क्या अंतर होता है यह समझाएँगे | FAT32 और NTFS File System के बीच का Difference बताने से पहले आपको यह जानना होगा की File System, FAT32 और NTFS  क्या होता है | इसकी थोड़ी जानकारी हम आपको शुरुआत मे दे देते हैं|

What is File System ?

FILE SYSTEM एक ऐसा Structure है जिसकी मदद से Computer या Operating System(OS) Hard Disk पर Data को Organize करता है | Windows based Operating Systems मे आपको usually इसके तीन Options देखने को मिलते है- FAT16, NTFS(New Technology File System) और FAT(File Allocation Table). File System Hard Disk Drive मे Data को organize करते हुए Data को store करने का एक तरीका है | जब आप एक नयी Hard Disk को Format करके partition create करते है तो आपको File System Decide करना होता है |
आसान से शब्दों मे हम यह कह सकतें हैं की अलग अलग devices मे Data को Store करने के तरीके अलग अलग होते हैं | अगर आपका Computer Hard Disk मे कुछ save कर रहा है तो उसका file system अलग होता है और ऐसे ही सभी devices के File System अलग अलग होते हैं और एक Operating System को ये पता होना चाहिए की कौन से Storage Devices मे Data को कैसे Store करना है |

What is Live File System

Live File System एक term है जिसे Microsoft कंपनी Microsoft Windows Vista और उसके बाद के Versions मे Packet Writing Method और Discs Create करने के लिए इस्तेमाल करती है जो फाइलों को incrementally media मे add करने की अनुमति देता है |

What is FAT32?

FAT32 - FAT 1977 मे introduce हुआ था जिसकी full form है File Allocation Table और तब से लेकर अब तक इसमें बहुत सारे Changes हुए हैं | FAT32 मे 32 का मतलब है की इसमें जो Data save होता है वो 32 bits के chunks मे save होता है और जो ये FAT32 है वो FAT का ही एक Type है | FAT32 एक Simple File System है और इसकी Simplicity की वजह से ही ये Memory Cards, USB Pendrives, MP3 Player या Flash Drive जैसे Storage mediums popular है | जब तक 4GB की Hard Disk Popular थी तब तक FAT16 Popular रहा और इसके कुछ बाद समय बाद FAT32 आया |

What is FAT16? 

यह 14 अगस्त 1984 को IBM द्वारा introduce किया गया और यह एक original file system है जिसे DOS और Windows 3x मे उपयोग किया जाता हैं और इसे इस तरीके से Design किया गया है की यह सिर्फ Small Partitions पर ही उपयोग की जा सकती है | Basically कहें तो यह File System बहुत पुराना है और जो केवल Small Partitions के लिए बनाया गया था | यह FAT16 का शुरुआती version था और इसके बाद इसका Final version आया जो की November 1987 मे Compaq द्वारा Release किया गया जिसे आज हम FAT16 format नाम से जानते हैं हालाँकि इसमें जो Changes हुए वो बहुत कम थे |

Difference Between FAT16 and FAT32 

FAT16

1. Maximum File 2GB - FAT16 मे File का Size अधिक से अधिक 2GB का हो सकता है या Approximately 2GB size की File आप Create कर सकतें हैं |

2. Less Secure - यह कम Secure होता है |

3. No Compression feature - इसमें Compression की Feature नहीं है मतलब आप इसमें अपने Data को Compress करके Space को Save नहीं कर सकते |  

4. इसमें जो Root Folder होता है वो सिर्फ 512 entries तक को ही manage कर पाता है और यदि इसमें फाइलों के नाम बहुत लम्बे रखे जाते है तो इससे entries की संख्या कम हो जाती हैं |

5. यह केवल 65,536 clusters(समूह) तक limited है लेकिन कुछ clusters(समूह) के पहले से reserve होने की वजह से इसकी जो Practical limit है वो 65,524 है |

6. यह FAT32 की तुलना मे Space को अधिक कुशलता से उपयोग नहीं करता है | 

7. यह speed और storage दोनों में 256MB से छोटी मात्रा पर कुशल है |

8. इसमें Boot Sector का backup नहीं होता |

FAT32

1. Maximum File 4GB (minus 2 Bytes) - FAT32 मे File का Size अधिक से अधिक 4GB minus 2 Bytes का हो सकता है या Approximately 4GB size की File आप Create कर सकतें हैं |

2. Less Secure - यह कम Secure होता है |

3. No Compression feature - इसमें Compression का Feature available नहीं है मतलब आप इसमें अपने Data को Compress करके Space को Save नहीं कर सकते | 

 4. इसमें Root Folder के एक ordinary cluster chain होने की वजह से यह Volume पर कहीं भी स्थित हो सकता है और इस कारण इसमें entries की संख्या पर कोई Restriction नहीं है | 

5. यह FAT16 की तुलना मे Space को अधिक कुशलता से उपयोग करता है | 

6. इसमें Root Directory को Relocate करने और Default copy के बजाय FAT की backup copy को उपयोग करने की क्षमता है

7. इसमें Boot Sector का backup नहीं होता |

8. यह speed और storage दोनों में 256MB से छोटी और बड़ी दोनों ही मात्रा पर कुशल है |




उम्मीद करते हैं दोस्तों की अब आपको FAT16 और FAT32 के बीच के अंतर का पता चल गया होगा |
हमने यहाँ नीचे कुछ और पोस्टों के link दिए हैं जिन्हें आपको पढना चाहिए | इन्हें पढने के लिए बस आपको पोस्टों के link पर click करना पड़ेगा |

अगर आपको यह Post and Video अच्छा लगा तो लाइक करना ना भूलें। और यदि आप Internet और Computer के बारे में सीखना और जानना चाहते है तो कृपया Facebook k Like बटन में क्लिक करे। Happy Learning
Technology के बारे में रोज कुछ न कुछ नया सीखने के लिए youtube में यहाँ से subscribe करें ==>>
★★★★★
Your Comment For This Post..?