What is sim card and how does it work?

What is sim card and how does it work?

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको SIM Card यानि Subscriber Identity Module के बारे मे बताएँगे | वैसे तो दोस्तों आप सभी अपने मोबाइल फोन मे SIM Card का इस्तेमाल करते ही होंगे लेकिन क्या आपने कभी SIM Card के बारे मे और ज्यादा जानने की कोशिश की | क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की सिम कार्ड मे ऐसी क्या चीज़ है जिससे आप किसी को Call या Message कर पाते हैं या Internet चला पाते हैं | वैसे तो दोस्तों सिम कार्ड कोई आज की चीज़ नहीं है , हमने जब से मोबाइल फोन को इस्तेमाल करना शुरू किया है तब से हम सिम कार्डस को भी इस्तेमाल कर रहें हैं | पहले इनका Size एक Debit/Credit Card के बराबर था लेकिन आज जो हम सिम कार्ड इस्तेमाल करते हैं वो बहुत छोटा होता है | आपने देखा होगा की Generally लोगों को बस इतना ही पता होता है की SIM Card को मोबाइल मे लगाया जाता है जो एक Chip की तरह है और इसके द्वारा किसी भी व्यक्ति को Track किया जा सकता है | दोस्तों यह सब बातें तो आप सभी जानते ही होंगे लेकिन आज हम आपको इससे थोड़ा ज्यादा बताएँगे SIM Card के बारे मे | यदि दोस्तों आप जानना चाहते है की सिम कार्ड सही मे क्या चीज़ है और यह कैसे काम करता है तो इसके लिए आप को बस हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा | 

What is SIM (सिम क्या है)?  

SIM की Full Form है Subscriber Identity Module / Subscriber Identification Module और यह एक ऐसा System है जिसके ज़रिये आपका जो मोबाइल फोन Network है मतलब जो आपका Network Service Provider है वो यह identify कर पाता है की आप कौन से फ़ोन मे,  कौन से  नंबर मे अभी Services को इस्तेमाल कर रहें हैं और आपको आगे क्या क्या Services provide करनी है | इस सिम कार्ड मे एक IMSI(International Mobile Subscriber Identity) नंबर Stored होता है जो की 64 Bit का नंबर होता है जिसके साथ मे एक Authentication Key होती हैं जिसके द्वारा आपको Identify किया जाता है | सिम कार्ड एक Integrated Circuit(IC) है जिसका उद्देश्य International Mobile Subscriber Identity (IMSI) नंबर और उससे सम्भंदित Key को सुरक्षित रूप से Store करना है और जिसका इस्तेमाल Mobile Telephony Devices (जैसे मोबाइल फोन और कंप्यूटर ) पर ग्राहकों को पहचानने और Certify करने के लिए किया जाता है। 
दोस्तों आपने सिम Card पर एक बहुत लम्बा नंबर लिखा देखा होगा और इस नंबर को ICCID(Integrated Circuit Card Identity) कहते हैं आप इसे नीचे दी गई फोटो मे देख सकते हैं | यह नंबर आपके सिम कार्ड को Identity करता है की यह जो सिम है वो Valid सिम है |

what a sim card used for

 कई सिम कार्डों पर Contact information को Store करना भी संभव है |  सिम कार्ड का उपयोग Satellite फोन मे भी किया जा सकता है | 
एक SIM Card मे Unique Serial Number(ICCID), IMSI (International Mobile Subscriber Identity) Number, Security Authentication, स्थानीय नेटवर्क से संबंधित Temporary जानकारी, उपयोगकर्ता की सेवाओं की सूची और दो पासवर्ड शामिल हैं | पहला PIN(Personal Identification Number) और दूसरा PUK(Personal Unblocking Code) होता है जो PIN Unlocking के लिए है | सिम कार्ड अन्य Carrier-Specific Data को भी स्टोर करता है जैसे कि SMSC(Short Message Service Center) number, Service Provider Name(SPN), Service Dialing Number(SDN) और Value Added Service(VAS) को | सिम Cards Various Data Capacities मे आते है जो की 8KB से 256KB तक हो सकते हैं और जिसमे अधिकतम 250 Contacts तक Store किये जा सकते हैं |

Types of SIM Cards

सिम कार्ड 4 प्रकार के होते हैं |

what is sim card definition

1. Standard / Mini Sim - इस तरह के सिम का उपयोग आम तौर पर 2010 से पहले के सभी मोबाइल फोन मे होता था और इसका Size 25*15 mm है जो की तीनों प्रकार मे से सबसे बड़ा Size है |

2.) Micro Sim - इस तरह के सिम का उपयोग आम तौर पर 2010 से बाद के मोबाइल फोन मे होने लगा था और इसका Size 15*12 mm है | कुछ नए फोन में अभी भी यह सिम इस्तेमाल होते दिखाई देते हैं।

3.) Nano Sim - अब ज्यादातर नए Smartphones मे इन्ही सिम का उपयोग होता है और इसका Size 12.3*8.8 mm है |

4.) Combi Sim - यह सिम कार्ड Standard सिम कार्ड के Size का ही होता है जो की तीन भागों मे Divided होता है | इस सिम कार्ड को आप अपने मोबाइल मे इस्तेमाल होने वाले सिम कार्ड के Size का बना सकते हैं जिसके लिए आपको बस इसे तोड़ना होता है क्योंकि यह तीन भागों मे तोड़ा जा सकता है | इस एक सिम कार्ड मे आपको Standard, Micro और Nano तीनों प्रकार के सिम कार्ड मिल जाते हैं | आजकल सभी सिम कार्ड Companies इन Sims का इस्तेमाल करने लगी है |

How Sim Card Works?

what is sim card iccid number


शुरुआत मे फोन IMSI को सिम कार्ड से प्राप्त करता है और फिर इस IMSI को नेटवर्क टावर को भेजता है और फिर वह नेटवर्क टावर अपने Internal Database मे इस IMSI के Corresponding Authentication Key की मदद से एक नया Random नंबर Generate कर देता है क्योंकि उस नेटवर्क टावर मे पहले से ही IMSI नंबर की और उनके Corresponding Authentication Key की एक List मौजूद होती है | फिर उसी Random नंबर को वह टावर आपके फोन मे भेजता है  और फिर जो आपके सिम मे Authentication Key है वो कुछ Calculation करके एक नया नंबर Generate कर देती है | फिर सिम के Random नंबर को नेटवर्क टावर अपने Random नंबर से Match करता है और यदि दोनों नंबर Match हो जाते हैं तो आपका सिम Valid घोषित किया जाता है और फिर आप उस नेटवर्क की Services को इस्तेमाल कर सकते हैं |

दोस्तों उम्मीद करते हैं की अब आपको सिम कार्ड से सम्भंदित सभी जानकारी मिल गई होंगी |

नीचे हमने कुछ और पोस्टों के link दिए है जिन्हें आप चाहे तो पढ़ सकते हैं | इसके लिए आपको बस उस पोस्ट पर Click करना होगा जिसे आप पढ़ना चाहते हैं |

1.) How to make/create animated GIF images from YouTube videos online?

2.) How to make/create an animated GIF image in Photoshop?

3.) How to get WiFi on desktop computer/How to use WiFi in desktop computer ?


अगर आपको यह Post and Video अच्छा लगा तो लाइक करना ना भूलें। और यदि आप Internet और Computer के बारे में सीखना और जानना चाहते है तो कृपया Facebook k Like बटन में क्लिक करे। Happy Learning
Technology के बारे में रोज कुछ न कुछ नया सीखने के लिए youtube में यहाँ से subscribe करें ==>>
★★★★★
Your Comment For This Post..?