What is Cryptography and its types in Hindi? | Cryptography से सम्भंदित सारी जानकारी |

What is Cryptography and its types?

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको Cryptography और उसके प्रकार के बारे मे बताएँगे (What is Cryptography and its types) | दोस्तों आपके लिए Cryptography के बारे मे जानना बहुत ज़रूरी है क्योंकि इसके द्वारा आप अपने Personal और Confidential Data को Protect कर सकते हैं | यदि आप जानना चाहते हैं की Cryptography क्या है और यह कितने प्रकार की होती है तो आपको इसके लिए हमारे इस पोस्ट को पूरा पढना होगा जिसमे हम आपको इससे सम्भंदित सारी जानकारी देंगे |

What is Cryptography in Hindi?

Cryptography शब्द Greek शब्द Krypto से बना है जिसका मतलब "Hidden Secrets" होता है | आसानी से शब्दों मे Cryptography का मतलब होता है "The Art of Protecting Data / Information" | इसके द्वारा आप अपने Data को Unreadable Secret Codes मे बदल सकते हैं जिन्हे Cipher Text कहा जाता है और इस Data को वही Read कर सकता है जिसके पास इसको Decrypt करने की Secret Key होगी | Decrypt हुए Data को Plain Text कहा जाता है | इसमें Encryption और Decryption दो Process होती है | इसका इस्तेमाल E-Mail Messages, Credit/Debit Card की Details तथा अन्य महत्वपूर्ण information को protect करने के लिए किया जाता है | Encryption मे Plain Text को Cipher Text मे Convert किया जाता है तथा Decryption मे Cipher Text को Plain Text मे Convert किया जाता है |

What is Encryption in Cryptography?

Cryptography मे Encryption एक ऐसी प्रक्रिया होती है जिसमे की Data या information को Unreadable Secret Codes मे Convert कर दिया जाता है और इस Converted Data को Cipher Text कहा जाता है और इसको आसानी से समझा नहीं जा सकता क्योंकि यह मशीनी भाषा मे होता है | इसे सिर्फ वही व्यक्ति समझ सकता है जिसके पास इस Encrypted हुए Data को Decrypt करने की Key मौजूद हो मतलब की इसे वापस Plain Text मे Convert करने की Key हो | Plain Text को Cipher Text मे Convert करने की Process को ही Encryption कहा जाता है |

What is Decryption in Cryptography?

Cryptography मे Decryption एक ऐसी प्रक्रिया होती हैं जिसमे की Encrypted Data को वापस Plain Text मे Convert किया जाता है | Cipher Text को Plain Text मे Convert करने की Process को Decryption कहा जाता है |

Types of Cryptography?

Cryptography को Mainly दो Parts मे Divide किया जाता है |

1. Symmetric Cryptography - इसमें Encryption और Decryption दोनों की Keys Same होती है मतलब की इसमें एक ही Key का इस्तेमाल करके Data या information को Encrypt और Decrypt किया जाता है |



2. Asymmetric Cryptography -  इसमें Encryption और Decryption दोनों की Keys Same नहीं होती है मतलब की इसमें Encryption करने के लिए Public Key का इस्तेमाल किया जाता है और Decryption करने के लिए Private Key का इस्तेमाल किया जाता हैं |

Benefits of Using Cryptography

1. Confidentiality − Encryption technique can guard the information and communication from unauthorized revelation and access of information.

2. Authentication − The cryptographic techniques such as MAC and digital signatures can protect information against spoofing and forgeries.

3. Data Integrity − The cryptographic hash functions are playing vital role in assuring the users about the data integrity.

4. Non-repudiation − The digital signature provides the non-repudiation service to guard against the dispute that may arise due to denial of passing message by the sender.

दोस्तों क्या आप जानते हैं की Whats-app मे भी Encrypted Messages का इस्तेमाल होता है | जब आप किसी को कोई Message भेजते हैं तो वह Plain Text से Cipher Text मे Convert होता है जिसमे एक Private Key होती है | इसमें Encryption करने के लिए Public Key का इस्तेमाल किया जाता है और फिर  Decryption करने के लिए Private Key का इस्तेमाल किया जाता हैं | आपके Messages को Whats app भी पढ़ती, ऐसा Whats-app वाले कहते हैं |

उम्मीद करते हैं दोस्तों की अब आप समझ गए होंगे - What is Cryptography and its types?
अगर आपको यह Post and Video अच्छा लगा तो लाइक करना ना भूलें। और यदि आप Internet और Computer के बारे में सीखना और जानना चाहते है तो कृपया Facebook k Like बटन में क्लिक करे। Happy Learning
Technology के बारे में रोज कुछ न कुछ नया सीखने के लिए youtube में यहाँ से subscribe करें ==>>
★★★★★
Your Comment For This Post..?