pixel सिम की तरह ही राशनकार्ड भी होगा पोर्ट, कहीं से भी ले पाएँगे राशन, जानें-कैसे होगी पोर्टेबिलिटी !

सिम की तरह ही राशनकार्ड भी होगा पोर्ट, कहीं से भी ले पाएँगे राशन, जानें-कैसे होगी पोर्टेबिलिटी !

सिम की तरह राशनकार्ड भी होगा पोर्ट, कहीं से भी ले पाएँगे राशन, जानें कैसे होगी पोर्टेबिलिटी !

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपको राशन कार्ड से संबंधित एक ज़रूरी ख़बर के बारे में बताना चाहते हैं, जो आप सभी के लिए जानना बहुत ज़रूरी है | तो दोस्तों यदि आप उस ख़बर के बारे में जानना चाहते हैं तो फिर हमारी इस पोस्ट को अंत तक पूरा पढ़ें | ख़बर के मुताबिक भारत सरकार जल्द ही खाद्य सुरक्षा कानून के तहत राशन कार्ड में मोबाइल सिम की तरह पोर्टेबिलिटी को लागू करना चाहती है | जिसके तहत राशन लेने के लिए गाँव, जिला या प्रदेश की सारी सीमाओं को भारत सरकार द्वारा ख़त्म कर दिया जाएगा |

भारत सरकार देश के हर नागरिक को दो वक़्त का खाना मुहैया कराने के लिए हर मुमकिन कदम उठा रही है | जिससे की हमारे देश में कोई भी नागरिक भूखा ना रहे और वह किसी भी PDS (Public Distribution System) की दुकान से राशन ले सके | अपनी इस अच्छी सोच के चलते भारत सरकार 2020 तक इस योजना को राष्ट्रीय स्तर पर लागू करना चाहती है | जिससे की कोई भी राशन लेने वाला व्यक्ति किसी भी PDS की दुकान से सब्सिडी पर चावल और गेहूं खरीद सके |

इस योजना के लिए खर्च होंगे इतने रूपए

इस पर उपभोक्ता मंत्रालय का कहना है कि इस योजना के लिए वह Integrated Management Of Distribution System (IM-PDS) तैयार कर रहे हैं | जिसके तहत करीब 127 करोड़ रूपए का खर्च आएगा और फिर इससे पूरे देश में Public Distribution Network बनाया जा सकेगा | सभी फर्जी राशन कार्डों को पूरी तरह से ख़त्म करने के बाद ही नेशनल पोर्टेबिलिटी को लागू किया जा सकेगा | वर्तमान में पूरे देश में करीब 24 करोड़ राशन कार्ड हैं, जिनमें से 82 प्रतिशत राशन कार्ड आधार कार्ड से लिंक किए जा चुके हैं |


वर्तमान समय में केवल हरियाणा, कर्नाटक, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना जैसे राज्यों में ही किसी भी PDS की दूकान से राशन लेने की सुविधा को शुरू किया गया है | लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी के लिए राशन कार्ड का आधार कार्ड से लिंक होना बहुत ज़रूरी है | पिछले 3 सालों में सरकार ने करीब 2 करोड़ 75 लाख फर्जी राशन कार्डों को निरस्त किया है |

नई व्यवस्था लागू करने के प्वाइंट ऑफ सेल मशीन होना जरूरी -

इस नई व्यवस्था को सही तरीके से लागू करने के लिए सभी PDS दुकानों पर EPOS मशीन का लगा होना ज़रूरी है | क्योंकि यह मशीन सीधे सर्वर से जुड़ी होती है और जब भी कोई लाभार्थी किसी दूकान से राशन लेता है, तो इसके ज़रिए उसका डाटा अपडेट हो जाता है |

वर्तमान समय में पूरे देश में कुल 5 लाख 27 हज़ार PDS की दुकाने हैं, जिसमें से 2 लाख 94 हज़ार दुकानों पर EPOS (Electronic Point of Sale) मशीन लगाई जा चुकी है | आने वाले समय में बाकी बची दुकानों पर भी यही मशीन लगाई जाएगी |

ऐसे होगी पोर्टेबिलिटी -

इसके लिए लाभार्थी को आवेदन करना ज़रूरी होगा और फिर जहाँ लाभार्थी जा रहा होगा, उस राज्य में उसके राशन को आवंटित कर दिया जाएगा | उसके बाद लाभार्थी दुसरे राज्य की किसी भी PDS (Public Distribution System) की दूकान से अपने लिए सस्ते दामों पर राशन ले पाएगा |

भारत सरकार द्वारा इस नई योजना के आने के बाद हमारे देश से सभी फर्जी राशन कार्ड ख़त्म हो जाएँगे, जिससे ज्यादातर लोगों का इसका फायदा मिलेगा |

इसी के साथ दोस्तों हमारा यह पोस्ट यही पर समाप्त होता है और हमें उम्मीद हैं कि आपको यह पोस्ट बहुत पसंद आया होगा |

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह ख़बर पसंद आई हो तो इस पर Like, Share और Comment करना ना भूलें |

इसके अलावा यदि आप चाहें तो हमारे निचे दिए गए पॉपुलर पोस्टों को भी पढ़ सकते हैं - 

1.) How To Apply For Ration Card Online / Offline in India in Hindi ?

2.) What is Artificial Intelligence (AI) in Hindi And Its Types ? | Full Information

3.) How To Generate New Paytm ATM/ Debit Card Pin Online Through Paytm App ?

4.) How To Complete Your KYC in PhonePe App For Uninterrupted Wallet Usage ?

5.) How To Deactivate And Activate Your Jio Sim Card Online Step By Step in Hindi ?
अगर आपको यह Post and Video अच्छा लगा तो लाइक करना ना भूलें। और यदि आप Internet और Computer के बारे में सीखना और जानना चाहते है तो कृपया Facebook k Like बटन में क्लिक करे। Happy Learning
Technology के बारे में रोज कुछ न कुछ नया सीखने के लिए youtube में यहाँ से subscribe करें ==>>
★★★★★
Your Comment For This Post..?