On page SEO क्या है? कैसे करे On page SEO?

On Page SEO क्या है? On Page SEO कैसे करे?



SEO का Meaning – Search Engine Optimization होता है. यह आपको SERPs(Search Engine रिजल्ट pages) में बेहतर रैंक प्राप्त करने और आपकी Site पर visitors की संख्या बढ़ाने में Help करता है.
SEO हमारे Website और Blog को Google में पहले page में Rank लाने में helpकरता है. जैसे आप मान लीजिये आप कोई Keyword Google में Search करता है तो उस Keyword से related बहुत सारे result हमे Show करता है वो result अलग अलग website के होते है पर जो result सबसे Top पर होता है तो visitors सबसे पहले उसी Website पर जाता है. बस इसी कारण से SEO अच्छे से करना किसी भी website के लिए बहुत ही जरूरी है.जब users कुछ भी Search करेंगे, तो Search Engine आपकी Site को SERPs में list नहीं कर पायेगा। इसका मतलब यह है कि SEO के बिना आपकी Website पर Traffic प्राप्त करना बहुत मुश्किल हो जायेगा.यदि आप अपने Blog पर Quality content Publish करते हैं, लेकिन SEO नहीं करते हैं, तो आपकी Website Search Result में नजर नहीं आयेगी. 

 SEO को दो Categories में Divide किया गया है
1) On Page SEO 
2) Off Page SEO

 On Page SEO:-

Page SEO एक ऐसी Process है जिसमे हम Content का Title, permalink, Meta description, website loading speed, alt tag आदि को Optimize करते है ताकि Content SERPs (Search Engine result pages)में first rank प्राप्त कर सकें. 

1) Website / Blog Title - 

Blog का Title जितना अच्छा बनायेंगे उतने ज्यादा Click आपकी Website पर आयेंगे.Title visitors पर एक अच्छा effect डालता है. यदि आपका title visitors को आकर्षित नहीं कर पाता है, तो वे कभी भी आपकी Content पर Click नहीं करेंगे. चाहे आपका Article कितना हीअच्छा क्यों न हो.आपको हमेशा अपने Title के शुरु में main keyword रखने की कोशिश करे ये Search Engine को समझनेकी कोशिश करता है. 

2) Post Permalink- 

Post के title के बाद दूसरी सबसे important चीज जो आपको ध्यान से रखनी चाहिए वो है आपकी पूरी site का permalink structure.एक बात को आप ध्यान दीजिये कि आप अपने target keyword permalink में ज़रूर use करें. 

3) Heading/Subheading in Post-

Heading Tags Search Engine Rankings के लिए कुछ ज्यादा important तो नहीं है लकिन आप सही टाइप की  headings जैसे कि H1, H2 और H3 का proper use अपने पूरे article में करेंगे तो आपको ज़रूर rankings में benefit मिलेगा. आप अपनी website में  कोशिश कीजिये कि आप अपने main keyword को और उसके related  कुछ और keywords का प्रयोग भी आप heading tags में करें. ताकि आपको  traffic में बेनिफिट मिल सके.

 4) Meta tag-

Meta Tags कुछ ऐसे tags होते है जोकि search engine को आपके article के बारे में कुछ valuable information को short में provide करते हैं. एक बहुत ही मत्वपूर्ण meta tag है meta description.क्योकि search engine results में आपकी site के title और link के नीचे display होती है. यह मत्वपूर्ण दो पहलूओं से होती है. पहले पहलू keyword का है. यदि आप keyword का प्रयोग इस description में करते हैं तो आपको search engine में किसी particular keyword में ranking प्राप्त करने में help मिलेगी और आपकी ranking भी आची होगी दूसरा factor CTR का होता है. जितनी ज्यादा अच्छा आपकी meta description होगा. उतने ही ज्यादा लोग आपके link पर click करेंगे और जिससे आपकी ranking और traffic दोनों बढ़ेगी.

 5) Images- 

 आजकल images का ज्यादा उसे होता जा रहा है और लोग पढने की जगह देखना ज्यादा पसंद करते हैं. इस चीज़ को ध्यान में रखते हुए search engines ने भी media का use करनी वाली sites की ranking को improve करना  शुरु कर दिया है.इसीलिए आपके लिए यह सख्त recommendation होगी कि आप अपने हर एक blog post जिसे कि आप किसी भी keyword के लिए targeted बनाना चाहते हैं, उसमे images और दूसरे media जैसे की videos आदि का use करें. इसके अलावा आप images के ALT tags or उनके names में भी अपने targeted keyword  का  use करे. इससे आपकी website par traffic increase होगा.

 6) Keyword Density- 

 Keyword Density भी आजकल कुछ ज्यादा important factor नहीं रह गया है क्योंकि जो चीज़ सबसे ज्यादा matter करती है वो है आपके content की quality की आपकी  website या blog का content कैसा है.  

7) Internal Linking-

Internal Linking एक बहुत ही ज्यादा important फैक्टर है. user engagement बढानें के लिए हम इंटरनल linking का उसे करते है.Internal Linking से हम user को show करा देते है की आपगर आप किसी भी article को सर्च कर रहे है तो उससे related सरे article आपको यहा पर मिलेंगे.इससे हम अपनी Content की quality का पूरा उसे कर के landing page से user को बाकि दुसरे pages में भी एन्गागे कर सकते है. 

8) External linking- 

जब हम अपनी post में किसी दूसरी website को add करते है तो इसे External linking बोलते है.ये SEO friendly होते है इससे हमारे Search Engine में कोई problem नही होती है. 

9) Responsive Design-

Responsive design आजकल mobile पर ranking करने के लिए बहुत ही important है. हालाँकि desktop पर ranking का इससे कोई लेना देना नही है पर अब mobile traffic हर रोज बढता जा रहा है. ऐसे में ये जरूरी है की आप mobile पर rank जरुर करे.इसीलिए अपनी site की design को mobile screen के हिसाब से बनाये ताकि user को आपकी site उसे करने में कोई problem न हो.mobile पर ranking होने के लिए रेस्पोंसिवे design बहुत जरूरी है. 

10) Site Speed-

Site speeds भी ranking में  थोड़ी help करती है अगर आपकी website बहुत  slow है 15-20 second में load होती है तो कोई भी user उस पर जाना पसंद नही करेगा . 

Off -Page SEO-

जितने भी काम website के बाहरके होते है Off - page SEO कहलाते है. जैसे की अपने ब्लॉग का Promotion करना,दूसरी Website में जाकर website का link Submit करना जिससे backlink मिलेगा और Backlink SEO के लिए बहुत जरूरी होता है.

Off-Page SEO Techniques
 
 1) Search Engine Submission- अपने Website के URL को Search Engine (Google, Bing etc.) में Submit करना. 

2)Classified Submission- अपनी Company के Classified Website में जाकर अपनी Website का Advertisement करे. 

3) Social Media- अपनी Post को ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया पर शेयर करे. Social Media से बहुत ज्यादा traffic मिलता है. 

4) Director Submission-High Domain authority Website में जाकर अपने Blog को Director में Submit करे.       
               
आज हमने सिखा की On page SEO क्या है और इसे कैसे करते है. अगर आपको ये Post पसंद आई तो इस पोस्टी को ज्यादा से ज्यादा Share करे. और अगर आपको इस Post से related कोई  problem हो तो आप हमे Comment  Box में बता सकते है.

यह भी पड़े-





No comments :

No comments :

Post a Comment

You Can Write Your Problem Here